पतंजलि Coronil किस आयुर्वेदिक जड़ी बूटी से बनी है, पूरी जानकारी ।

patajali-coronil-kit

पतंजलि बाबा रामदेव ने Coronil किट लॉन्च की है, उसमें देसी आयुर्वेदिक जड़ी बूटी का इस्तेमाल किया गया है।

आचार्य बालकृष्ण के कहने के अनुसार पतंजलि Coronil मैं इस्तेमाल की गई जैसी चीजें कोरोनील मेम मुलेठी, गिलोय, अश्वगंधा, तुलसी, दालचीनी, लॉन्ग, पीपली, सोठ, अदरक, काली मिर्च,श्वासरी रस का इस्तेमाल किया गया है।

Coronil किट मैं तीन प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से बनी दवाई है। इस किट में Coronil और श्वासरी वटी और अणु का तेल मौजूद है। इस तेल का उपयोग बाबा रामदेव के कहने के अनुसार इसका इस्तेमाल की पुष्टि नहीं हुई है। किस आयुर्वेदिक दवाई का इस्तेमाल पहले गवर्नमेंट द्वारा जांच और पुष्टि के बाद ही होगी।

Coronil दवाई का निर्माण किसने किया?

इस Coronil दवाई का निर्माण दिव्य फार्मेसी हरिद्वार और पतंजलि आयुर्वेदिक लिमिटेड हरिद्वार द्वारा किया गया है।

Coronil दवाई कहां से खरीद सकते हैं?

Coronil दवाई आप बाबा रामदेव पतंजलि आयुर्वेदिक स्टोर से खरीद पाएंगे। इसके अलावा एक पतंजलि की ऐप लॉन्च की जाएगी उसकी मदद से आप घर बैठे इस दवाई को मंगवा सकते हैं।

Coronil दवाई की ऑनलाइन एप कब लांच होगी?

Coronil दवाई को ऑनलाइन मंगवाने के लिए। App लॉन्च होगा आज से 7 दिन बात जिसकी मदद से आप इस आयुर्वेदिक दवाई को घर बैठे ऑनलाइन किस ऐप से मंगवा सकते हैं।

Coronil दवाई के क्या-क्या फायदे हैं।

बाबा रामदेव के कहने के अनुसार Coronil दवाई के फायदे। इस दवाई का उपयोग करने पर शरीर में कफ बनने से रोकता है और बलगम खत्म कर फेफड़ों की सूजन कम कर देता है। बाबा रामदेव ने एक और दावा किया है की इस दवाई से वायरस को भी खत्म कर देता है। बाबा रामदेव का कहना है कि दवा से वायरस महामारी मैं कुछ लोगों को ठीक किया है। पर इस दवाई की वैज्ञानिक नियमों द्वारा पुष्टि नहीं की गई है। भारत की गवर्नमेंट ने इस दवाई की पूरी जांच और पुष्टि करने की जरूरत पर बात की है। पुष्टि होने के बाद ही इस दवाई का इस्तेमाल करें ना कि बिना सलाह इस दवाई का इस्तेमाल नहीं करें।

इस दवाई को इस्तेमाल करने की इजाजत मैं नहीं देता। मैंने इसमें आपको इस दवाई के बारे में जानकारी दी है यह दवाई किसने बनाई और उन्होंने इस दवाई में क्या क्या इस्तेमाल किया है और इस दवाई को इस्तेमाल करने से क्या-क्या फायदे होते हैं यह सब बाबा रामदेव कि कहने के अनुसार है

जब तक सरकार या डॉक्टर इस दवाई का इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं दे तब तक इसका इस्तेमाल नहीं करें

डॉक्टर या आयुर्वेदिक अस्पताल सलाह के अनुसार इस्तेमाल करें।

दोस्तों हमें उम्मीद है कि आपको पोस्ट जरूर पसंद आई होगी। नीचे कमेंट बॉक्स मैं अवश्य बताइए।

Thank You

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: