नींबू के फायदे और नुकसान व नींबू से बीमारियों का करें इलाज

नींबू के फायदे नुकसान

नींबू के फायदे और नुकसान व नींबू से बीमारियों का करें इलाज और नींबू का वैज्ञानिक नाम क्या है आइए जानते हैं।

नींबू का वैज्ञानिक नाम सिट्रस लेमन Citrus ×Limon है। दोस्तों नींबू दो प्रकार के होते हैं एक नींबू जो सिंपल जो हम नींबू खाते हैं उसका नाम सिट्रस लेमन है और दूसरा कागजी नींबू जिसको विज्ञानिक भाषा में स्विफ्ट औरंटीफोलिया नाम है। Lemon Scientific Name: Citrus×Limon

1. नींबू के फायदे क्या क्या है।

2. नींबू के पत्तों के लाभ (Benefits Of Lemon Leaves)

3. नींबू के नुकसान – Nimbu ke Nuksan in Hindi

नींबू के पत्तों में मौजूद पोषक तत्व – नींबू के पत्तों के लाभ (Benefits Of Lemon Leaves)

नींबू एक ऐसा फल है जिसका इस्‍तेमाल डेली रुटीन में तकरीबन क‍िचन से जुड़े हर काम में क‍िया जाता है। नींबू-पानी, नींबू वाली चाय, सलाद में नींबू का रस डालकर इस्‍‍तेमाल क‍िया जाता है। नींबू में विटामिन सी सबसे अधिक होता है। नींबू (Nimbu) बालों, चेहरे और संपूर्ण सेहत के लिए काफी हेल्दी होता है। लेकिन, बहुत कम ही लोग जानते होंगे कि नींबू की तरह नींबू के पत्ते भी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। ये नींबू से कही ज्यादा गुणकारी होते हैं।

यह भी पढ़े: पारिजात पेड़ का रहस्य, राम मंदिर भूमि पूजन मैं पीएम मोदी ने किया पौधारोपण

Lemon Nutrition Facts in Hindi – Health Effects of Lemon Leaves
नींबू के पत्तों में मौजूद पोषक तत्व

  • सिट्रिक एसिड
  • कैल्शियम
  • फ्लेवोनॉएड्स
  • आयरन
  • फॉस्फोरस
  • विटामिन ए, बी1 और सी

Health Effects of Lemon Leaves – Lemon Nutrition Facts in Hindi

नींबू के फायदे और नुकसान के बारे में आइए जानते हैं। Lemon Nutrition Facts in Hindi

नींबू के फायदे क्या क्या है।

निम्बू के फायदे फॉर स्किन – Nimbu Benefits for Skin in Hindi

नींबू का रस एक प्राकृतिक एंटीसेप्टिक दवा होने के कारण, त्वचा से संबंधित समस्याओं का भी इलाज कर सकता है। इसके रस को सनबर्न के दर्द को कम करने के लिए लगाया जाता है। यह मधुमक्खी के डंक के दर्द को भी कम करने में मदद करता है। यह मुँहासे और एक्जिमा के लिए भी अच्छा है। यह उम्र को बढ़ने से रोकने तथा झुर्रियां और ब्लैकहैड को हटा में भी मदद करता है। पानी और शहद के साथ मिश्रित नींबू का रस, त्वचा में स्वस्थ चमक लाता है। नींबू में साइट्रिक एसिड (citric acid) एक प्राकृतिक ब्लीचिंग एजेंट (bleeching agent) के रूप में कार्य करता है और आपकी त्वचा के रंग को हल्का और चमकदार बनाता है।

यह भी पढ़े: Amazing Facts About Dogs | कुत्तों के बारे मे रोचक और ज्ञानवर्धक बातें

नींबू के फायदे नुकसान
नींबू के फायदे और नुकसान व नींबू से बीमारियों का करें इलाज

नींबू और शहद के फायदे करें वजन को कम – Lemon Helps in Weight Loss in Hindi

जर्नल ऑफ़ क्लीनिकल बायोकैमिस्ट्री एंड न्यूट्रिशन (Journal of Clinical Biochemistry and Nutrition) में प्रकाशित एक अध्ययन से पता चला है कि नींबू में पॉलीफेनॉल एंटीऑक्सीडेंट अधिक मात्रा में होता है और फैट वाले आहार का सेवन करने वाले चूहों में इसके सेवन के बाद वजन का घटना देखा गया जिससे यह साबित होता है कि नींबू के उपयोग से वजन कम होता है। यदि कोई व्यक्ति नीबू के रस को गर्म पानी और शहद के साथ पीता है, तो यह शरीर के वजन को कम करने में मदद कर सकता है।

यह भी पढ़े: Amazing Facts About Dogs | कुत्तों के बारे मे रोचक और ज्ञानवर्धक बातें

नींबू के फायदे करें अपच का इलाज – Lemon Good for Digestion in Hindi

नींबू का रस अपच और कब्ज का इलाज करने में मदद करता है। आप अपने खाने में  नींबू के कुछ बूंदों को मिला सकते हैं जो पाचन में आपकी सहायता कर सकता है। यह एक रक्त शोधक  के रूप में भी कार्य करता है, इसलिए दोपहर या रात के भोजन के बाद नींबू से एक अच्छा ताजा पेय बनाएँ और उसे पिएं। कई स्थानों में इसे ताजा नींबू का सोडा भी कहा जाता है। इस पेय को बनाने के लिए आपको नींबू का रस, ठंडा पानी, सोडा, नमक और मिठास के लिए शक्कर या शहद की जरुरत पड़ेगी। आप स्वाद के लिए कुछ पुदीने के पत्ते भी इसमें मिला सकते हैं। 

यह भी पढ़े: Amazing Facts About Dogs | कुत्तों के बारे मे रोचक और ज्ञानवर्धक बातें

निम्बू के फायदे दिलाएँ पाँव दर्द से राहत – Nimbu ke Fayde for Foot Relaxation in Hindi

नींबू एक सुगन्धित और एंटीसेप्टिक एजेंट है और पैर को आराम देने के लिए उपयोगी है। गर्म पानी कुछ नींबू का रस मिलाएँ और तत्काल राहत और मांसपेशियों के आराम के लिए इस मिश्रण में अपने पैरों को डुबोएँ।

नींबू के रस के फायदे उच्च रक्तचाप के लिए – Lemon Benefits for High Blood Pressure in Hindi

नींबू का रस पीना दिल की समस्याओं से पीड़ित लोगों के लिए सहायक होता है, क्योंकि इसमें पोटेशियम होता है। यह उच्च रक्तचाप, चक्कर आना और मतली को नियंत्रित करता है, क्योंकि यह मन और शरीर दोनों के लिए एक शांत सेन्सेशन प्रदान करता है। यह आमतौर पर मानसिक तनाव और अवसाद को कम करने के लिए काम करता है।

नींबू बुखार के लिए – Lemon for Fever in Hindi

नींबू ठंड, फ्लू या बुखार से पीड़ित व्यक्ति का इलाज करने में भी मदद करता है। क्योंकि यह शारीर में पसीने को बढ़ाकर बुखार को तोड़ता है। नींबू एंटीबॉडी और सफेद रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में सहायता करता है जो शरीर में सूक्ष्मजीवों (microorganisms) से लड़ने में मदद करते हैं। बुखार के दौरान नींबू का इस्तेमाल करने से, यह शरीर में डायफोरेसिस की मात्रा को बढ़ाता है, जिसके कारण बुखार कम होता है। रक्त शोधक होने की वजह से, यह मलेरिया और हैजा जैसी बीमारियों का इलाज करने में भी मदद कर सकता है।

नींबू के फायदे बालों के लिए – Nimbu ke Fayde for Hair in Hindi

  • नींबू का रस व्यापक रूप से बालों की देखभाल के उपचार में उपयोग किया जाता है। रूसी, बालों के झड़ने और बालों और स्कॅल्प से संबंधित समस्याओं का इलाज कर सकता है। यदि आप नींबू का रस सीधे बाल पर लगाते है तो यह आपके बालों को एक प्राकृतिक चमक दे सकता है।
  • रुसी के लिए- नींबू रुसी को हटाने के लिए एक प्राकृतिक उपाय है। बालों की जड़ों पर पर नींबू के रस का उपयोग रुसी को खत्म कर सकता है। 
     
  • तैलीय बाल- नींबू के रस और सिरका के मिश्रण को बालों की जड़ों में लगाने से रुसी कम होती है और साथ ही साथ यह आपको बालों को अधिक तैलीय होने से भी रोकता है।
  • दो मुहे बाल- नींबू के रस और जैतून के तेल का मिश्रण बालों में लगाने से दो मुहे बाल भी ठीक होते हैं।
  • जूँ से छुटकारा पाने के लिए- बालों में जूँ से छुटकारा पाने के लिए नींबू का रस, लहसुन या बादाम पेस्ट के साथ मिलाएं और इसे बालों की जड़ों पर लगाएं, यह जूँ हटाने का एक प्राकृतिक उपाय है।

नींबू के लाभ करें दाँतों की देखभाल – Lemon for Dental Care in Hindi

नींबू अक्सर दंत चिकित्सा देखभाल में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है अगर ताजा नींबू का रस दांतों के क्षेत्र में लगाया जाएँ तो यह दर्द से छुटकारा पाने में सहायता कर सकता है। मसूड़ों पर रस की मालिश करने से खून बहना कम हो सकता है, जबकि कई मसूड़ों के रोगों और उनके कारण होने वाली बुरी गंधों को नष्ट कर सकता है। सफेद दांत पाने के लिए भी नींबू का उपयोग किया जा सकता है, साथ-साथ यह सांस की बदबू को रोकने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है। आप नींबू के रस की कुछ बूंदों को अपने टूथपेस्ट में मिलाकर उसका उपयोग कर सकते हैं।

यह भी पढ़े: Amazing Facts About Dogs | कुत्तों के बारे मे रोचक और ज्ञानवर्धक बातें

निम्बू के फायदे रोकें आंतरिक रक्तस्राव – Lemon ke Fayde for Internal Bleeding in hindi

नींबू में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, इसलिए यह आंतरिक रक्तस्राव को रोक सकता है। आप नींबू का रस थोड़ी से रूई पर लेकर और नाक के रक्तस्राव को रोकने के लिए इसे अपने नाक के अंदर रख सकते हैं।

नींबू का उपयोग करे जले के निशान को कम – Lemon for Burn Scars in Hindi

नींबू में साइट्रिक एसिड होता है जो स्वाभाविक रूप से जले के निशान को हटाने में मदद करता है। जली हुई त्वचा के निशान कम करने के लिए नींबू के रस को लगाएं और 2 मिनट के लिए मालिश करें। इस प्रक्रिया को नियमित रूप से करें। पर यह सुनिश्चित कर लें कि जली हुई त्वचा ठीक हो जाने के बाद ही आप नींबू के रस का उपयोग करें। पुरानी जली हुई जगह पर नींबू का रस का उपयोग निशान को फीका करने में मदद कर सकता है, और चूंकि नींबू एक शीतलन एजेंट है, यह आपके त्वचा पर बर्निंग सेन्सेशन को कम कर देता है।

यह भी पढ़े: पारिजात पेड़ का रहस्य, राम मंदिर भूमि पूजन मैं पीएम मोदी ने किया पौधारोपण

नींबू के औषधीय गुण हैं श्वसन समस्याओं के लिए – Lemon Juice for Respiratory Disorders in Hindi

नींबू का रस श्वसन समस्याओं और साँस लेने की समस्याओं से राहत में सहायता करता है, जैसे कि अस्थमा के दौरे से पीड़ित व्यक्ति को शांत करने की क्षमता। विटामिन सी का एक समृद्ध स्रोत होने के नाते, यह अधिक दीर्घकालिक श्वसन विकारों से निपटने में मदद करता है। हैजा और मलेरिया जैसी बीमारियों का इलाज नींबू के रस के साथ किया जा सकता है, क्योंकि यह एक रक्त शोधक के रूप में कार्य करता है। 

निम्बू के गुण करें गठिया का इलाज – Lemon Juice for Rheumatism in Hindi

यह एक मूत्रवर्धक भी है और गठिया का इलाज कर सकता है। यह शरीर से जीवाणु और विषाक्त पदार्थों को फ्लश करने में मदद करता है।

नींबू पानी के फायदे बचाएँ गले के संक्रमण से – Lemon Juice for Throat Infection in Hindi

अपने एंटीबायोटिक गुणों के कारण नींबू एक उत्कृष्ट फल है जो गले में संक्रमण से संबंधित समस्याओं से लड़ता है।

नींबू के पत्तों के लाभ (Benefits Of Lemon Leaves)

  • यदि आपको सिर दर्द हो रहा है, तो आप नींबू के पत्तों का रस निकालकर सूंघे, जल्दी ही राम मिल जाएगा। माइग्रेन की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।
  • नींबू के पत्तों के अर्क में थोड़ा सा शहद मिलाकर पिएंगे, तो पेट के कीड़े मर जाते हैं।
  • नींबू के पत्तों के अर्क का उपयोग नींबू बाम के रूप में किया जाता है और पर्यावरण के कारण त्वचा पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव, तनाव को दूर करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • नींबू की पत्तियों से निकले अर्क या रस को इंद्रियों (Senses) को शांत करने के लिए उपयोग किया जाता है। इस प्रकार विभिन्न सौंदर्य उत्पादों में नींबू की पत्तियों के अर्क को इस्तेमाल किया जाता है, ताकि त्वचा पर सूदिंग असर हो।
  • हररोज सुबह खाली पेट एक चम्मच नींबू रस और एक चम्मच ज़ैतून तेल का सेवन करने से आप पत्थरी की प्रॉब्लम से छुटकारा पा सकते है।
नींबू के फायदे नुकसान
नींबू के फायदे नुकसान

यह भी पढ़े: घर के किचन में किन चीजों रखने से होता है मां लक्ष्मी जी का वास

नींबू के नुकसान – Nimbu ke Nuksan in Hindi

  • नींबू में सिट्रस एसिड होता है, जिसका दांतों में ज्यादा संपर्क होने से दांत संवेदनशील हो जाते हैं।
  • अगर आपको एसिडिटी की समस्या है तो, नींबू का सेवन एक दम बंद कर दीजिए क्योंकि इसमें एसिड होता है।
  • बार-बार नींबू के रस और दांतो का संपंर्क होने से दांतों की ऊपरी सतह को नुकसान पहुंचता है। इससे बचने के लिए नींबू को रस को पानी में मिलाकर पिएं।
  • नींबू पानी का ज्यादा सेवन सीने में जलन पैदा करता है।
  • कुछ लोगों को इससे एलर्जी भी होती है। इसके अलावा यह अस्थमा के लक्षणों को भी बढ़ा सकता है।

यह भी पढ़े: Amazing Facts About Dogs | कुत्तों के बारे मे रोचक और ज्ञानवर्धक बातें

नींबू खाने का सही तरीका – Ways to consume Lemon in Hindi

  • सुबह के नाश्ते में नींबू का उपयोग करें और दिन की शुरुआत स्वादिष्ट भोजन से करें।
  • किसी भी तरह के सूप में नींबू डाला जा सकता है, इससे सूप का स्वाद और भी अच्छा होगा।
  • कुछ लोग सब्जियों में भी नींबू को डालते हैं।
  • केक बनाने में भी नींबू का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • आप नींबू का उपयोग कॉकटेल (cocktail) या मॉकटेल (mocktail) में भी कर सकते हैं।
  • नींबू और पानी के मिश्रण को नींबू पानी के रूप में हर हर में पिया जाता है और यह काफी पसंद भी किया जाता है।

यह भी पढ़े: घर के किचन में किन चीजों रखने से होता है मां लक्ष्मी जी का वास

नींबू की तासीर – Lemon ki taseer in Hindi

नींबू की तासीर ठंडी होती है। इसका सेवन गर्मियों में करने की सलाह दी जाती है। गर्मियों में मौसम में यह शरीर को ठंडक देता है। सर्दियों में नींबू का अधिक इस्तेमाल नहीं किया जाता है, इसका अधिक सेवन शरीर में किसी तरह की समस्या को भी उत्तपन कर सकता है।

 

 

4 thoughts on “नींबू के फायदे और नुकसान व नींबू से बीमारियों का करें इलाज”

  1. Pingback: 10 बेहतर नींद के लिए उपाय - Best Tips For Sleep » Latest

  2. Pingback: शहद - ठंडी में शहद की अद्धभुत शक्ति - Wonderful Power Of Honey » Food

  3. Pingback: 10 Interesting Facts About Mango - आम के बारे में रोचक तथ्य » Facts

  4. Pingback: डिजिटल मार्केटिंग क्या हैं? Digital Marketing In Hindi » Technology

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: